loader
रुझान / नतीजे

बिहार विधानसभा चुनाव 20200 / 243

एनडीए
0
महागठबंधन
0
अन्य
0

चुनाव में दिग्गज

क्या अनिल कुंबले बीजेपी के लिए लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे?

पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले बीजेपी में शामिल हो गए हैं और वह 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। इस दावे के साथ सोशल मीडिया पर एक पोस्ट ख़ूब वायरल हो रहा है। यह पोस्ट बीजेपी समर्थक फ़ेसबुक पेज 'वी सपोर्ट नरेंद्र मोदी' पर शेयर की गई है। इस पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा गया, ' हिंदुस्तान के महान ख़िलाड़ी अनिल जी कुंबले बीजेपी में शामिल होने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं, अपने राज्य कर्नाटक से लड़ेंगे चुनाव।' ख़बर लिखे जाने तक इस पोस्ट को काफ़ी लोग शेयर कर चुके थे। इतना ही नहीं इस पर कई लोगों ने प्रतिक्रियाएं भी दी। 

वायर ख़बर का सच 

जब हमने इस ख़बर की सच्चाई जानने के लिए पड़ताल शुरू की तो हमें गूगल पर दो से तीन लिंक मिले जहाँ पर पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले की राजनीति से संबंधित खबरें मिलीं।18 अप्रेल 2018 को 'टाइम्स नाउ' की न्यूज़ साइट पर एक ख़बर प्रकाशित हुई थी जिसमें कहा गया कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले और राहुल द्रविड़ को पार्टी में शामिल होने का ऑफ़र दिया था। लेकिन दोनों ने बीजेपी के इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। 

former cricketer anil kumble joins bjp and will contest in upcoming election viral post - Satya Hindi
टाइम्स नाउ पर प्रकाशित हुई ख़बर का स्क्रीन शाॅर्ट
इसके अलावा इस ख़बर को 13 अप्रेल 2018 को 'जनसत्ता' ने भी प्रकाशित किया था। जिसमें लिखा गया, ' बीजेपी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले को पार्टी में शामिल करने की कोशिश की थी, लेकिन दोनो ही खिलाड़ियों ने पार्टी में शामिल होने से इंकार कर दिया। 
former cricketer anil kumble joins bjp and will contest in upcoming election viral post - Satya Hindi
जनसत्ता पर प्रकाशित हुई ख़बर का स्क्रीन शाॅर्ट
इस पूरे मामले को लेकर हमने भी अनिल कुंबले से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। हमने उनके ट्वटिर अकाउंट को भी खंगाला। लेकिन वहां भी बीजेपी में शामिल होने वाली बात का ज़िक्र नहीं था। हमारी पड़ताल में यह वायरल होती ख़बर भ्रामक साबित हुई।  

'सत्य हिन्दी'
की ताक़त बनिए


गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

असत्य से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें