loader

कंगना बोलीं- उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है कि तूने मुझसे बदला ले लिया

बीते कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार से दो-दो हाथ करने में जुटी फ़िल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने बुधवार को सरकार के मुखिया उद्धव ठाकरे पर जोरदार हमला बोला। मुंबई में अपने ऑफ़िस में बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) द्वारा तोड़फोड़ करने से भड़कीं कंगना ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को तू कहकर संबोधित किया। 

कंगना ने एक वीडियो जारी कर कहा, ‘‘उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है कि तूने फ़िल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है। आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा। ये वक़्त का पहिया है, याद रखना हमेशा एक जैसा नहीं रहता।’’ 

ताज़ा ख़बरें

कश्मीर पर फ़िल्म बनाऊंगी 

कंगना ने बीएमसी की कार्रवाई को कश्मीर में हुए हिंदुओं के पलायन और हत्या से जोड़ते हुए कहा, ‘‘मुझे पता तो था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीती होगी, आज मैंने इसे महसूस किया है और आज मैं इस देश को वचन देती हूं कि मैं सिर्फ़ अयोध्या पर ही नहीं, कश्मीर पर भी एक फ़िल्म बनाऊंगी और अपने देशवासियों को जगाऊंगी।’’ 

फ़िल्म अभिनेत्री ने कहा कि यह उनके साथ हुआ है और इसके कुछ मायने हैं। उन्होंने बीएमसी की कार्रवाई को क्रूरता और आतंक बताया।  

कंगना के इस वीडियो से यही लगता है कि अब सुलह होने लायक कुछ नहीं बचा है और आने वाले दिनों में ठाकरे सरकार बनाम कंगना की लड़ाई और तेज़ होगी।

इससे पहले बुधवार सुबह बीएमसी के अधिकारियों की एक टीम कंगना के ऑफ़िस के बाहर पहुंची थी और ऑफ़िस के बाहर बनी एक बालकनी में और अंदर भी तोड़फोड़ की थी। कंगना के ऑफ़िस का नाम मणिकर्णिका फ़िल्म्स है। 

बीएमसी के मुताबिक़, कंगना ने ऑफ़िस का डिजाइन बदल दिया और इसे लेकर कंगना को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था। बीएमसी ने अपनी सफाई में कहा कि वह अवैध निर्माण के ख़िलाफ़ यह कार्रवाई कर रही है लेकिन यह साफ है कि अब मामला राजनीतिक बन गया है। 

कंगना ने बुधवार सुबह धुआंधार ट्वीट करके महाराष्ट्र सरकार को बुरी तरह घेर लिया था। कंगना ने बीएमसी को बाबर और उसके अधिकारियों को उसकी सेना बताया। उन्होंने आगे लिखा पाकिस्तान और हैशटैग दिया- डेथ ऑफ़ डेमोक्रेसी। उन्होंने मुंबई के लिए पीओके वाले बयान को दोहराया।

कंगना ने ट्वीट कर कहा, ‘मणिकर्णिका फ़िल्म्स मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहां बाबर आया है, आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम, जय श्री राम, जय श्री राम।’

...तो मुंबई छोड़ दूंगी

मंगलवार को फ़िल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के ख़िलाफ़ महाराष्ट्र सरकार द्वारा ड्रग्स लेने के आरोपों की जांच का आदेश देने के बाद भी अभिनेत्री ने ट्विटर पर इसका जवाब दिया था। 

कंगना ने ट्वीट कर कहा था कि मुंबई पुलिस और गृह मंत्री अनिल देशमुख उनका ड्रग टेस्ट करवाएं, कॉल रिकॉर्ड की जांच करवाएं और अगर उन्हें ड्रग बेचने वालों के साथ उनका कोई भी लिंक मिलता है, तो वे अपनी ग़लती को स्वीकार करेंगी और हमेशा के लिए मुंबई छोड़ देंगी। 

कंगना के एक्स ब्वॉयफ्रेंड अध्ययन सुमन ने एक इंटरव्यू के दौरान ड्रग लेने को लेकर कंगना का नाम लिया था। अध्ययन ने दावा किया था कि कंगना ने उससे भी ड्रग्स लेने के लिए कहा था। अध्ययन का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। शिवसेना नेता सुनील प्रभु ने अध्ययन सुमन के इस इंटरव्यू के वीडियो की कॉपी राज्य सरकार को सौंपी थी और मामले की जांच कराने की मांग की थी। 

महाराष्ट्र से और ख़बरें

कंगना के इस बयान पर कि उन्हें मुंबई पुलिस से मूवी माफ़िया से भी ज़्यादा डर लगता है, महाराष्ट्र में घमासान छिड़ा हुआ है। शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत से उनकी अच्छी-खासी बहस हो चुकी है। राउत के कंगना मुंबई न आएं के बयान के बाद महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री अनिल देशमुख भी कह चुके हैं कि कंगना को यहां रहने का कोई अधिकार नहीं है। लेकिन कंगना 9 सितंबर को भारी सुरक्षा के बीच मुंबई स्थित अपने घर पर पहुच गईं। 

केंद्र से मिली सुरक्षा 

ठाकरे सरकार के साथ जोर-आज़माइश बढ़ने के बाद फ़िल्म अभिनेत्री कंगना को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने वाई श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराई थी। कंगना ने इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का आभार जताया था और कहा था कि यह प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा। 

अपनी राय बतायें

महाराष्ट्र से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें