loader
फ़ोटो क्रेडिट - @AamAadmiParty।

साउथ कोरिया की तर्ज पर करेंगे कोरोना की टेस्टिंग, बनाया ‘5टी प्लान’ : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली सरकार साउथ कोरिया की तर्ज पर कोरोना वायरस की टेस्टिंग करेगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने कोरोना को नियंत्रित करने के लिये ‘5टी प्लान’ बनाया है। 

पहला टी है - टेस्टिंग

केजरीवाल ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ़्रेन्स में कहा, ‘5टी में से पहले टी का मतलब है टेस्टिंग। हम साउथ कोरिया की तर्ज पर बड़े पैमाने पर टेस्टिंग करेंगे। बिना टेस्टिंग के हम पता नहीं लगा सकेंगे कि कौन संक्रमित है या नहीं।’ उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने 50 हज़ार लोगों के टेस्ट के लिये किट का ऑर्डर कर दिया है और 1 लाख लोगों के रैपिड टेस्ट के लिये भी किट का ऑर्डर कर दिया गया है। केजरीवाल ने कहा कि शुक्रवार से किट मिलनी शुरू हो जाएंगी। 

केजरीवाल ने कहा, ‘ऐसे इलाक़ों में जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या ज़्यादा है, जैसे- निज़ामुद्दीन, दिलशाद गार्डन, इन जगहों पर रैपिड टेस्ट करवाए जाएंगे।

दूसरा टी है - ट्रेसिंग

केजरीवाल ने कहा, ‘दूसरे टी का मतलब है - ट्रेसिंग। इसके तहत हम लोगों को ट्रेस करेंगे। किसी भी व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव मिलने पर हम उसके संपर्क में आये सभी लोगों से ख़ुद को क्वरेंटीन करने के लिये कह रहे हैं। इसके अलावा इन लोगों की मॉनिटरिंग की जा रही है और पुलिस को इन लोगों का फ़ोन नंबर, पता दे दिया गया है।’ 

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मरकज़ निज़ामुद्दीन से जो लोग बाहर निकाले गये थे, उनके नंबर हम पुलिस को दे रहे हैं और पता कर रहे हैं कि वे लोग आस-पास के इलाक़ों में कहां-कहां गये थे, इन इलाक़ों को सील कर दिया जाएगा।’

तीसरा टी है - ट्रीटमेंट 

केजरीवाल ने कहा, ‘तीसरा टी है - ट्रीटमेंट। इसके तहत जो भी बीमार होगा, दिल्ली सरकार उसका इलाज करायेगी, इस समय सरकार के पास 3,000 बेड तैयार हैं। अगर दिल्ली में 30 हज़ार मरीज भी होंगे तो उसकी भी हमने तैयारी कर ली है।’ केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार वेंटिलेटर, ऑक्सीजन बैड, पीपीई किट को लेकर पूरी योजना बना रही है। 

ताज़ा ख़बरें

चौथा टी है - टीम वर्क 

केजरीवाल ने कहा कि चौथा टी है - टीम वर्क। उन्होंने कहा कि सारी राज्य सरकारें मिलकर काम करेंगी तभी हम कोरोना को हरा सकते हैं। केजरीवाल ने कहा कि वह दिल्ली बीजेपी के नेताओं से बातचीत कर चुके हैं और अब सांसदों से बात करेंगे। केजरीवाल ने कहा कि डॉक्टर और नर्सेज हमारी टीम का अहम हिस्सा हैं और हमें उनका और उनके परिवार का ख्याल रखना होगा। 

दिल्ली से और ख़बरें

पांचवा टी है - ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांचवा टी है - ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार जो योजनाएं बना रही है, उनकी मॉनिटरिंग करने की जिम्मेदारी उन पर है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि एलएनजेपी हॉस्पिटल, जीबी पंत हॉस्पिटल और राजीव गांधी हॉस्पिटल को कोरोना हॉस्पिटल घोषित कर दिया गया है। इसका मतलब इन अस्पतालों में सिर्फ़ कोरोना के मरीजों का इलाज होगा। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

दिल्ली से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें