loader

एबीपी सी-वोटर सर्वे: तमिलनाडु में एनडीए को झटका लगने के आसार

एक चुनावी सर्वे में तमिलनाडु में यूपीए आसानी से सरकार बनाती दिख रही है। एबीपी न्यूज़ और सी-वोटर के चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में यूपीए को बहुमत मिलते दिखाया गया है। सर्वे के अनुसार 173-181 सीटें मिल सकती हैं। 234 विधानसभा सीटों वाले तमिलनाडु में सरकार बनाने के लिए किसी भी गठबंधन के पास 118 विधायकों का समर्थन होना चाहिए। सर्वे के अनुसार, डीएमके और कांग्रेस वाले इस एनडीए गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिलता दिख रहा है।

इस सर्वे में एनडीए को बहुत बड़ा झटका लगता दिख रहा है। इसको 45-53 सीटें मिल सकती हैं। इस एनडीए में  एआईएडीएमके शामिल है और मौजूदा सरकार उसी की है। अन्य को 2-4 सीटें मिल सकती हैं। 

abp c voter opinion poll predicts upa government in tamilnadu - Satya Hindi

पिछले चुनावी सर्वे में भी ऐसी ही रिपोर्ट सामने आई थी। क़रीब एक पखवाड़ा पहले आए 'टाइम्स नाउ- सी वोटर' के चुनाव- पूर्व सर्वेक्षण से पता चला था कि यूपीए को 158 सीटें मिल सकती हैं, जो पिछले चुनाव की सीटों से 60 सीटें अधिक होंगी। 

इस सर्वेक्षण के अनुसार ही एनडीए सिर्फ़ 65 सीटों पर सिमट सकता है। उसे साल 2016 के विधानसभा चुनाव में 136 सीटें मिली थीं और उसने सरकार बनाई थी। 

'टाइम्स नाउ- सी वोटर' के चुनाव- पूर्व सर्वेक्षण पर भरोसा करें तो एनडीए को लगभग 43.2 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। एनडीए को इस बार सिर्फ 32.1 प्रतिशत वोट मिलने की संभावना है जबकि पिछले चुनाव में 43.7 प्रतिशत लोगों ने उसे वोट दिया था। 

'टाइम्स नाउ- सी वोटर' ने भावी मुख्यमंत्री पर भी सर्वे किया था। इसके अनुसार, द्रविड़ मुनेत्र कषगम यानी डीएमके अध्यक्ष एम. के. स्टालिन मुख्यमंत्री के रूप में पहली पसंद बन कर उभरे हैं। इस सर्वेक्षण में उन्हें 38.4 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया। मौजूदा मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी को सिर्फ़ 31 प्रतिशत लोगों ने मुख्यमंत्री के रूप में पसंद किया है। फ़िल्म अभिनेता कमल हासन को 7.4 प्रतिशत, वी. के. शशिकला को 3.9 प्रतिशत, फ़िल्म अभिनेता रजनीकांत को 4.3 प्रतिशत और स्टालिन के बड़े भाई के. एस. अलागिरी को सिर्फ 1.7 प्रतिशत लोगों ने अगले मुख्यमंत्री के रूप में पसंद किया है।

ताज़ा ख़बरें

एबीपी- सी-वोटर सर्वे: बंगाल में टीएमसी को बढ़त

एबीपी- सी-वोटर सर्वे में पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की टीएमसी को बढ़त मिलती दिख रही है। सर्वे के अनुसार टीएमसी को 152-168 सीटें मिल सकती हैं। अब यदि इस सर्वे का आँकड़ा चुनाव परिणाम के रूप में तब्दील होता है तो टीएमसी की सरकार बन सकती है। पश्चिम बंगाल की विधानसभा में कुल 294 सीटें और बहुमत के लिए 148 सीटें चाहिए।

तमिलनाडु से और ख़बरें

इस सर्वे में यह भी भविष्यवाणी की गई है कि बीजेपी दूसरे स्थान पर रहेगी और उसको 104-120 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस और लेफ्ट के गठबंधन को 18-26 सीटें मिल सकती हैं। अन्य को 2 सीटें मिल सकती हैं। 

सी-वोटर के इस सर्वे में मतदान प्रतिशत को भी दिखाया गया है कि किस पार्टी को कितने प्रतिशत वोट मिलेंगे। इस सर्वे के अनुसार टीएमसी को सबसे ज़्यादा 42 फ़ीसदी वोट मिल सकते हैं। बीजेपी को 37 फ़ीसदी वोट मिलने के आसार हैं वहीं कांग्रेस-लेफ़्ट के गठबंधन को 13 फ़ीसदी वोट मिलने के आसार हैं। अन्य को 8 फ़ीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं। 

इस तरह सीटों और वोट प्रतिशत दोनों के मामले में ममता बनर्जी मैदान को जीतती हुई नज़र आ रही हैं। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

तमिलनाडु से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें