loader

अमेरिकी चुनाव: ट्रंप बोले- वोटों की गिनती रोको, फ़्रॉड मत करो

रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप ने भारतीय समयानुसार गुरुवार की रात एक बार फिर ज़ोर देकर कहा है कि वोटों की गिनती रोक देनी चाहिए। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि इस 'धोखाधड़ी को रोका जाना चाहिए।'
ट्रंप ने साफ शब्दों में कहा कि यह 'फ्रॉड' है।
इसके साथ ही ट्रंप ने पेनसिलविनिया के अटॉर्नी जनरल को पद से हट जाने को कहा। उन्होंने कहा कि यह मांग बढ़ रही है कि अटॉर्नी जनरल पद से हट जाएं। बता दें कि पेनसिलविनिया में वोटों की गिनती में ट्रंप आगे हैं। वह नहीं चाहते हैं कि आगे की गिनती हो। उन्होंने मांग की है कि पोस्टल बैलट की गिनती न हो, वे जीत चुके हैं। 
पर्यवेक्षकों का कहना है कि पोस्टल बैलट की गिनती होने पर ट्रंप पिछड़ सकते हैं, इसलिए वह इसके ख़िलाफ़ हैं। उन्होंने वहां गिनती रोकने के लिए अदालत में याचिका भी दायर की है। पेनिसिलविनिया में 20 सीटें हैं और बहुमत पाने वाले को सभी सीटें मिल जाएंगी। 

प्रदर्शन, विरोध, दंगा, गिरफ़्तारियाँ

ऐसे समय जब अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी और डेमोक्रेट उम्मीदवारों के बीच काँटे की टक्कर चल रही है और दोनों के बीच कई राज्यों में बहुत ही कम वोटों का अंतर है, देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुए हैं। 
दोनों ही उम्मीदवारों के समर्थकों ने जगह-जगह विरोध प्रदर्शन किए हैं, कई जगहों पर दंगे हुए हैं, मारपीट हुई है। पुलिस ने कई जगहों पर लोगों को गिरफ़्तार किया है, कुछ राज्यों में नैशनल गार्ड्स को बुला लिया गया है। तनाव बढ़ता ही जा रहा है। 
US Election 2020  : donald trump demands to stop vote count - Satya Hindi
पोर्टलैंड में पुलिस ने 11 प्रदर्शनकारियों को गिरफ़्तार किया है और उनके पास से राइफ़ल, हथौड़े और गोला-बारूद बरामद किए हैं। पुलिस ने इन प्रदर्शनकारियों पर दंगे करने का आरोप लगाया है। 
ख़ास ख़बरें
इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, ओरेगॉन में हिंसक विरोध पर उतारू प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए गवर्नर केट ब्राउन ने नैशनल गार्ड को बुला लिया है। न्यूयॉर्क में पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे 50 लोगों को गिरफ़्तार किया है। इस तरह के हिंसक विरोध प्रदर्शन करने वाले ट्रंप के समर्थक हैं।  

'अंतिम वोट तक गिनती हो!'

इंडियन एक्सप्रेस ने कहा है कि जो बाइडन के समर्थक भी जगह-जगह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, पर वे छोटे समूहों में हैं और उनका प्रदर्शन शांतिपूर्ण है। उनकी मांग है कि अंतिम वोट तक गिनती जारी रहनी चाहिए और हरेक वोट को गिना चाहिए। पर ट्रंप के समर्थकों ने कई जगहों पर गिनती रोकने की मांग की है। 
डेनवर पुलिस का कहना है कि प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया, दोनों में झड़प के बाद 4 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है। 
US Election 2020  : donald trump demands to stop vote count - Satya Hindi
जो बाइडन, डेमोक्रेट उम्मीदवार
मीनियापोलिस में भी प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम कर दी, बैरिकेड लगा दिया और पुलिस को अपना काम करने से रोका। समाचार एजेन्सी रॉयटर्स के अनुसार, अटलांटा, डेट्रॉयट और ओकलैंड में भी गिनती केंद्रों के बाहर प्रदर्शन हुए हैं। 

ट्रंप करेंगे बड़ा एलान

इन तमाम तरह की खबरों के बीच डोनल्ड ट्रंप की प्रचार टीम ने एलान किया है कि राष्ट्रपति लास वेगस में एक बड़ी घोषणा करेंगे। यह नहीं कहा गया है कि क्या घोषणा होगी, लेकिन यह अहम होगी, यह साफ है। 
डोनल्ड ट्रंप की संभावित प्रेस कॉन्फ्रेंस में नैशल इंटेलीजेंस के पूर्व प्रमुख रिक ग्रेनल, नेवाडा के पूर्व अटॉर्नी जनरल एडम लैक्सॉल्ट, अमेरिकन कंज़रवेटिव यूनियन के मैट स्क्लैप और नेवाडा रिपब्लिकन पार्टी के प्रमुख माइकल मैकडॉनल्ड भी मौजूद रह सकते हैं। 
इसके साथ ही सीएनएन ने कहा है कि जो बाइडन भी जल्द ही जनता के सामने आकर महत्वपूर्ण घोषणा करने वाले हैं।

भारतीय मूल के उम्मीदवारों को शिकस्त

भारतीय मूल के रिकिन मेहता न्यू जर्सी से सेनेट का चुनाव हार गए हैं। उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और डेमोक्रेट उम्मीदवार कोरी बुकर ने उन्हें हराया है। बुकर को 60 प्रतिशत और मेहता को 38 प्रतिशत वोट मिले।
इसी तरह भारतीय मूल के पिता और आर्मेनियम मूल की माता की अमेरिकी सारा जिडीऑन मेने से सेनेट का चुनाव हार गई हैं। वे डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से चुनाव लड़ रही थी। उन्हें रिपब्लकिन पार्टी के स्थानीय दिग्गज सूजन कॉलिन्स ने हराया है। 
सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

दुनिया से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें