loader
रुझान / नतीजे चुनाव 2022

दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 0 / 250

बीजेपी
0
आप
0
कांग्रेस
0
अन्य
0

केरल : 24 घंटे में कोरोना संक्रमण 30% बढ़ा

केरल में पिछले 24 घंटे में कोरोना के मामले 30 प्रतिशत बढ़ गए। राज्य सरकार ने दिन भर में कोरोना के 31,445 नए मामलों की पुष्टि की है। इसके साथ ही राज्य में 24 घंटे में कोरोना से 215 लोगों की मौत हो गई है। यह एक दिन पहले हुई मौतों से 19 प्रतिशत अधिक है। 

इसके साथ ही राज्य सरकार ने ओणम उत्सव को लेकर चेतावनी दी है और चिंता जताई है। 

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने कहा है कि ओणम उत्सव के दौरान भारी भीड़ होने और लोगों के बड़ी तादाद में एकत्रित होने की आशंका है। इसलिए अगले चार हफ़्तों तक ज़्यादा चौकसी बरती जाएगी। उन्होंने इस दौरान डेल्टा किस्म के कोरोना वायरस के फैलने की आशंका भी जताई है। 

ख़ास ख़बरें

केंद्र की चेतावनी

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने दूसरे राज्यों को भी ओणम उत्सव के दौरान अधिक चौकस रहने को लेकर हिदायत दी है और कहा है कि वे संक्रमण बढ़ने से रोकने के लिए हर मुमकिन उपाय करें। 

केरल की इस संकटपूर्ण स्थिति पर राजनीति भी शुरू हो गई है। केंद्रीय मंत्री व बीजेपी नेता वी. मुरलीधरन ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन पर ज़ोरदार हमला करते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने कहा है, "केरल में कोविड-19 की स्थिति भयावह है, मुख्यमंत्री विजयन अपने लोगों को बचाने में नाकाम रहे हैं।"

बीजेपी ने केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज का भी मजाक उड़ाते हुए उन्हें 'न्यूज़रीडर टर्न्ड पॉलिटीशियन' कहा है। बता दें कि जॉर्ज राजनीति में आने से पहले पत्रकार थीं। 
kerala corona spike due to onam - Satya Hindi

टीका के बावजूद संक्रमण

एक रिपोर्ट के अनुसार, केरल में 40 हज़ार से ज़्यादा ऐसे लोग संक्रमित पाए गए हैं जिन्हें पूरी तरह से टीके लग गए थे। अब ऐसे मामलों को केंद्र सरकार ने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजने को कहा है जिससे पता लगाया जा सके कि कहीं कोई नया वैरिएंट तो इसके पीछे नहीं है।

यह बड़ी चिंता का विषय इसलिए भी है क्योंकि इन मामलों से सवाल उठता है कि क्या यह वायरस अब वैक्सीन से मिली सुरक्षा को मात देने में सक्षम है?

देश में फ़िलहाल हर रोज़ सबसे ज़्यादा कोरोना संक्रमण के मामले दर्ज करने वाले केरल में पूरी तरह टीके लगाए लोगों को कोरोना से संक्रमित होने का यह मामला कोई नया नहीं है। ऐसे मामले पहले भी आते रहे हैं।

kerala corona spike due to onam - Satya Hindi

सोशल डिस्टैंसिंग का उल्लंघन

लेकिन बड़ी चिंता की बात इसलिए है कि एक राज्य में इतनी बड़ी संख्या में टीके लगवाए लोगों के संक्रमण के मामले आए हैं।

'एनडीटीवी' की रिपोर्ट के अनुसार इनमें से एक ज़िले पथानामथिट्टा में क़रीब 15 हज़ार मामले तो पहली खुराक के बाद और 5 हज़ार से ज़्यादा मामले दूसरी खुराक के बाद आए। इसके अलावा दूसरी बार संक्रमण के मामले भी आए हैं। 

मतलब साफ़ है कि सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने जैसे कोरोना प्रोटोकॉल के पालन में लापरवाही ख़तरनाक साबित हो सकती है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

केरल से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें