loader

टी20 की कप्तानी छोड़ेंगे विराट कोहली

क्रिकेटर विराट कोहली ने टी20 फ़ॉर्मेट में भारत की कप्तानी छोड़ने का फ़ैसला किया है। वे दुबई में इस साल अक्तूबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद कप्तान पद से हट जाएंगे। लेकिन वे टेस्ट मैच और एक दिवसीय क्रिकेट में भारतीय टीम के कप्तान बने रहेंगे।

उन्होंने ट्वीट कर यह जानकारी दी है और कहा है कि बीसीसीआई प्रमुख सौरभ गांगुली, सचिव जय शाह और चयनकर्ताओं से बातचीत करने के बाद वे इस फ़ैसले पर पहुँचे हैं। 

उन्होंने ट्वीट किया, "मैंने अक्टूबर में दुबई में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 कप्तान के तौर पर पद से हटने का फ़ैसला किया है।" 

क्या कहा कोहली ने?

कोहली ने कहा है, "कार्यभार को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। पिछले आठ-नौ वर्षों से मैं सभी तीनों प्रारूपों में खेल रहा हूँ और नियमित रूप से पिछले पाँच से छह वर्षों से कप्तानी कर रहा हूँ, मुझे लगता है कि मुझे टेस्ट और एक दिवसीय क्रिकेट में भारतीय टीम की अगुआई के लिये पूरी तरह से तैयार होने के लिये खुद को थोड़ा स्पेस देने की ज़रूरत है।"

विराट ने एक बयान जारी किया है, जिसमें लिखा है, "मैंने टी20 कप्तान के तौर पर अपने समय में टीम को अपना सबकुछ दिया और मैं टी20 कप्तान के लिये ऐसा करना जारी रखूँगा और बतौर बल्लेबाज आगे बढ़ने के लिये ऐसा करना जारी रखूँगा।''

रोहित शर्मा की कामयाबी

पिछले कुछ समय से कोहली के सफेद गेंद की टीम की कप्तानी के भविष्य को लेकर अटकलें लगायी जा रही थीं। 

रोहित शर्मा ने इंडियन प्रीमियर लीग में शानदार प्रदर्शन किया और मुंबई इंडियंस को पाँच खिताब दिलाये हैं। उन्होंने जब मुंबई को पाँचवाँ खिताब दिलाया, उसी समय से रोहित शर्मा के फैंस, मीडिया और बीसीसीआई का एक खेमा चाहता था कि सफेद गेंद की कप्तानी रोहित को सौंप दी जाए क्योंकि विराट को बहुत ज्यादा मौके मिल चुके हैं।

आईसीसी के टूर्नामेंटों में कामयाबी न मिलने पर सवाल उठ रहे थे कि आखिर कोहली कब अपना पहला आईसीसी खिताब जीतेंगे। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

खेल से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें