loader

बीजेपी पर राहुल का ज़ोरदार हमला, कहा, गांधी हिन्दू थे, गोडसे हिन्दुत्ववादी था

ऐसे समय जब बीजेपी चुनावों के पहले हिन्दू-मुसलिम का मुद्दा उठा कर सांप्रदायिक व राजनीतिक ध्रुवीकरण करने की कोशिश में है, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर हिन्दू व हिन्दुत्व का मुद्दा ज़ोरशोर से उठाया है और बीजेपी पर ज़ोरदार हमला बोला है।  उन्होंने यह काम तब किया है कि जब कुछ महीने बाद ही यानी अगले साल पाँच विधानसभाओं में चुनाव होने हैं। 

कांग्रेस के इस सांसद ने राजस्थान के जयपुर में महंगाई हटाओ रैली में भाषण देते हुए बीजेपी पर कटाक्ष किया और उसे हिन्दुत्व के मुद्दे पर घेरने की कोशिश की। उन्होंने एक बार फिर हिन्दू व हिन्दुत्व का मुद्दा उठाया और दोनों के बीच अंतर साफ करते हुए कहा कि महात्मा गांधी हिन्दू थे जबकि नाथूराम गोडसे हिन्दुत्ववादी था। 

इस रैली में राहुल ने कहा,

मैं हिन्दू हूँ मगर हिन्दुत्ववादी नहीं हूं। आज मैं आपको हिन्दू और हिन्दुत्ववादी के बीच में फ़र्क बताना चाहता हूँ, महात्मा गांधी हिन्दू, गोडसे हिन्दुत्ववादी।


राहुल गांधी, सांसद, कांग्रेस पार्टी

हिन्दू बनाम हिन्दुत्ववादी

राहुल गांधी ने इस बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, "चाहे कुछ भी हो जाए हिन्दू सत्य को ढूँढता है। मर जाए, कट जाए, पिस जाए, हिन्दू सच को ढूँढता है। उसका रास्ता सत्याग्रह है। हिन्दू सच को ढूँढने में जिन्दगी निकाल देता है।" 

उन्होंने हिन्दू व हिन्दुत्व पर ज़ोर देते हुए इसके आगे कहा,

महात्मा गांधी ने आत्मकथा लिखी, माइ एक्सपेरिमेंट विद ट्रूथ, मतलब पूरी जिंदगी उन्होंने सत्य को समझने में बिता दी और सच को ढूंढने में समझने में बिता दी और अंत में एक हिन्दुत्ववादी ने उनके सीने में तीन गोलियाँ उतार दीं।


राहुल गांधी, सांसद, कांग्रेस पार्टी

हिन्दू कौन?

राहुल गांधी ने हिन्दू व हिन्दुत्व पर इसके आगे कहा, "हिन्दू कौन? जो सबसे गले लगता है, हिन्दू कौन? जो किसी से नहीं डरता है। आप रामायण, गीता, उपनिषद चाहे कोई धर्मग्रंथ पढ़िए कहाँ लिखा है किसी ग़रीब को मारना है, किसी गरीब को कुचलना है। मुझे दिखाइए कहाँ ऐसा लिखा है।"

कांग्रेस के सांसद ने कहा, "गीता में लिखा है सत्य के लिए युद्ध करो। कृष्ण ने अर्जुन से कहा अपने भाइयों को सच्चाई के लिए मारो, उन्होंने कभी नहीं कहा की सत्ता के लिए मारो।"

'हिन्दुओं की सरकार लानी है'

राहुल गांधी यहीं नहीं रुके। उन्होंने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा, 

2014 से इनकी सरकार है। हिन्दुत्ववादियों का राज है, हिन्दुओं का नहीं। हमें एक बार फिर इन हिन्दुत्ववादियों को बाहर निकालना है और हिन्दुओं का राज लाना है।


राहुल गांधी, सांसद, कांग्रेस पार्टी

'पूंजीपति चला रहे हैं देश'

कांग्रेस की इस महंगाई हटाओ रैली में राहुल गांधी ने महंगाई के मुद्दे पर भी बीजेपी को घेरा। उन्होंने कहा, "देश की आज जो हालत है वह सबको दिख रहा है। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। पूरा का पूरा ध्यान चार-पाँच पूंजीपतियों पर है।"

राहुल गांधी ने कहा, "हिन्दुस्तान के सारे इंस्टिट्यूशन एक संगठन के हाथ में है। मंत्री के ऑफिस में आरएसएएस के ओसडी, देश को जनता नहीं चला रही है।" 

कांग्रेस सांसद ने कहा,

तीन-चार पूंजीपति देश चला रहे हैं। हमारे प्रधानमंत्री पूंजीपतियों का काम कर रहे हैं। नोटबंदी हुई, जीएसटी लागू किया गया, काले कानून बनाए गए।


राहुल गांधी, सांसद, कांग्रेस पार्टी

क्या कहा गहलोत ने?

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी जयपुर में आयोजित कांग्रेस महंगाई हटाओ रैली को संबोधित किया। उन्होंने  मोदी सरकार पर वादाख़िलाफ़ी का अरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार ने जो वादे किए थे, उन्हें पूरा नहीं किया।

 उन्होंने कहा कि यह सब जानते हैं कि राहुल जी ने मोदी सरकार के कुशासन का मुक़ाबला किया है। देशवासी जानते हैं कि विपक्ष की आवाज बनकर राहुल गांधी ने इस सरकार का  मुक़ाबला किया है।

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

राजस्थान से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें