loader

पीलीभीत : नाबालिग की हत्या, सामूहिक बलात्कार का आरोप

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत ज़िले में 16 साल की एक नाबालिग के साथ कथित तौर पर बलात्कार के बाद उसकी हत्या कर दी गई है। पुलिस ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि यह वारदात शनिवार को बरखेड़ा थाना इलाक़े के एक गाँव में हुई। 

पुलिस सुपरिटेंडेंट दिनेश कुमार ने बीबीसी से कहा कि जब देर रात तक बच्ची घर नहीं लौटी तो परिजनों पुलिस में इसकी शिकायत की। बच्ची का शव गाँव के पास गन्ने के खेत से बरामद हुआ। 

लाश से थोड़ी दूरी पर बच्ची का स्कूल बैग, उसकी किताबें, जूते, साइकिल व दूसरी चीजें मिलीं। 

ख़ास ख़बरें

चोट के निशान

पुलिस ने कहा कि लड़की के शरीर पर चोट के कई निशान थे और उसके मुँह में कपड़े का एक टुकड़ा ठूंसा हुआ था। 

एसपी ने कहा कि घटनास्थल से बीयर की चार बोतलें, नमकीन और सिगरेट के कुछ टुकड़े भी बरामद हुए हैं। लड़की के परिजनों का आरोप है कि उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया है। 

पुलिस ने इस आरोप से इनकार नहीं किया और कहा है कि सामूहिक बलात्कार सहित सभी तरीकों से मामले की जाँच की जा रही है। 

Uttar Pradesh : pilibhit rape and murder - Satya Hindi

छह लोग हिरासत में

पुलिस ने बताया कि छह लोगों को अभी तक हिरासत में लिया गया है और उनसे कड़ी पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार, परिजनों की शिकायत के आधार पर एक नामजद और पाँच अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ भारतीय दंड संहिता और यौन अपराध से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) क़ानून की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। मृतका का शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। 

सत्य हिन्दी ऐप डाउनलोड करें

गोदी मीडिया और विशाल कारपोरेट मीडिया के मुक़ाबले स्वतंत्र पत्रकारिता का साथ दीजिए और उसकी ताक़त बनिए। 'सत्य हिन्दी' की सदस्यता योजना में आपका आर्थिक योगदान ऐसे नाज़ुक समय में स्वतंत्र पत्रकारिता को बहुत मज़बूती देगा। याद रखिए, लोकतंत्र तभी बचेगा, जब सच बचेगा।

नीचे दी गयी विभिन्न सदस्यता योजनाओं में से अपना चुनाव कीजिए। सभी प्रकार की सदस्यता की अवधि एक वर्ष है। सदस्यता का चुनाव करने से पहले कृपया नीचे दिये गये सदस्यता योजना के विवरण और Membership Rules & NormsCancellation & Refund Policy को ध्यान से पढ़ें। आपका भुगतान प्राप्त होने की GST Invoice और सदस्यता-पत्र हम आपको ईमेल से ही भेजेंगे। कृपया अपना नाम व ईमेल सही तरीक़े से लिखें।
सत्य अनुयायी के रूप में आप पाएंगे:
  1. सदस्यता-पत्र
  2. विशेष न्यूज़लेटर: 'सत्य हिन्दी' की चुनिंदा विशेष कवरेज की जानकारी आपको पहले से मिल जायगी। आपकी ईमेल पर समय-समय पर आपको हमारा विशेष न्यूज़लेटर भेजा जायगा, जिसमें 'सत्य हिन्दी' की विशेष कवरेज की जानकारी आपको दी जायेगी, ताकि हमारी कोई ख़ास पेशकश आपसे छूट न जाय।
  3. 'सत्य हिन्दी' के 3 webinars में भाग लेने का मुफ़्त निमंत्रण। सदस्यता तिथि से 90 दिनों के भीतर आप अपनी पसन्द के किसी 3 webinar में भाग लेने के लिए प्राथमिकता से अपना स्थान आरक्षित करा सकेंगे। 'सत्य हिन्दी' सदस्यों को आवंटन के बाद रिक्त बच गये स्थानों के लिए सामान्य पंजीकरण खोला जायगा। *कृपया ध्यान रखें कि वेबिनार के स्थान सीमित हैं और पंजीकरण के बाद यदि किसी कारण से आप वेबिनार में भाग नहीं ले पाये, तो हम उसके एवज़ में आपको अतिरिक्त अवसर नहीं दे पायेंगे।

अपनी राय बतायें

उत्तर प्रदेश से और खबरें

ताज़ा ख़बरें

सर्वाधिक पढ़ी गयी खबरें